‘दृश्य’ और ‘अदृश्य’ स्थानीय सरकार

‘सरकार’ ये हमारे रोजमर्रा के जीवन मे असर डालने वाला एक परिचित शब्द है। हमारी रोज की कोई भीजरुरत  पानी की, बिजली की और लाइसेंस, आधार कार्ड बनाना सभी मे सरकार की भूमिका रहती है। यहीसोच के साथ मे फील्ड वर्क के लिए गुजरात के गॉंवो मे गयी। वहाँ भी मुझे सरकार और जनता के बीच केसम्बन्ध का अहसास हुआ। और इसी सम्बन्ध को गहराई से जाने के लिए हमने स्थानिक लोगो का साक्षात्कारलिया और सरकार के साथ उनके अनुभव सरकारी सुविधाओं के माध्यम से समझने की कोशिश की। इसदौरान सरकार का गांव मे अस्तित्व के सन्दर्भ मे कुछ बातें खुद उस परिस्थिति मे रहकर अनुभव किया औरकुछ बातें लोगो के द्वारा जानी। कुछ अनुभव ये थे की गांव मे परिवहन व्यवस्था की अस्वस्थता, लोगो कीसरकार से कोई उम्मीद बाकी न रहना और गांव मे सरकार के अंग होते हुए भी लोगो को उसकी खबर नहीहोना। लोगो से बातों के दौरान मुझे ये समझ मे आया की ऐसा नही है की स्थानिक सरकार काम नही कर रहीगांव मे , बस ये है की लोग उससे अनभिज्ञ है। तात्पर्य यह है की, गांव मे सरकार की दृश्यता होते हुए भीअदृश्यता है। जैसा की हम जानते है की सरकार के  तीन भागो मे से एक भाग स्थानिक/निचली सरकार है। स्थानिक सरकार या फिर तीन स्तरीय पंचायती राज व्यवस्था ये गॉंवो मे दृश्य है। पर स्थानीय सरकार जो कीआम जनता की समस्याओं का समाधान और उनकी बातो को उपरी सरकार तक पहुचाने का प्रमुख माध्यमहै, कही न कही स्थानीय लोगो की वास्तविक जरूरतों और समस्याओ को समझके उन्हें पूरा करने मे पूर्ण रूपसे सफल नही हो पायी है । गावो के लोगो से बातचीत के दौरान यह बात सामने आयी की, अपनी सुविधावों कोपूरा करने का दायित्व लोग केन्द्र सरकार को दे रहे। स्थानिक सरकार और उनके अंगो जैसे की सरपंच,पंचायत कार्यालय, ग्राम सभा आदि की जिम्मेदारी और कार्यो से वो अनजान है। यही तथ्य दर्शाता है की गांव मेसरकार एक व्यवस्था के रूप में तो  दृश्य है पर उस व्यवस्था द्वारा क्रियान्वयन अच्छे से नही किया जाना उसकी अदृश्यता को दर्शाता है ।

 

गुजरात के कच्छ जिले के गांव मे यात्रा करने के दौरान मुझे ये ज्ञात हुआ की यहाँ ब्लॉक से गांव के लिए सीमितसरकारी बस सुविधा है। ऐसा भी नही है की लोगो को अपने जरुरत की वस्तुएँ गांव मे मिल जा रही,उसके लिएउनको ब्लॉक मे आना ही पड़ता है। इससे यह निष्कर्ष निकलता है की सरकार (स्थानीय) को पता है की लोगोको परिवहन सुविधा (बस) की जरुरत है तो यह उपलब्ध कराई गयी। पर उसकी गुणवत्ता और संख्या के बारेमे विचार नही किया गया। यही वजह है की लोगो को लगता है की सरकार उनकी जरूरतों को पुर करने केलिए काम नही कर रही बल्कि बस अपनी जिमेदारियो को पूरा कर रही। कुछ इसी तरह का विचार ग्राम सभाके बारे मे भी लोगो के मन मे है। ग्राम सभा मे लोग इसलिए नही जाते क्योंकि वहाँ पर बोले जानी वाली उनकीसमस्याओं पर अमल और काम तो किया जाता है पर वो सिर्फ नाम के लिए होता है। लोगो को उनसे कोईलाभ हुआ की नही इस पर कोई विचार-विमर्श नही होता है। सबसे महत्वपूर्ण बात यह है की लोगो को यह नहीपता की वो अपने समस्याओं को लेकर किसके पास जाये। क्योंकि उनको सरकारी विभागों के कार्यो के बारे मेनही पता. अब यह भी कहा जा सकता है की इसमें लोग अनपढ़ है तो इसमें सरकार की क्या गलती है। परक्या लोगो को जानकार बनाना यह सरकार की जिमेदारियो मे नही आता? यह सवाल है जो आम जनता केमन मे है। इसके अलावा अनोपचारिक संगठन या निजी संगठन भी लोगो पर ज्यादा प्रभाव डाल रही है।गुजरात के आनंद जिला के गांव मे फील्ड वर्क करने पर यह पता चला की वह लोगो द्वारा बनाई गयी अमूलमिल्क के उत्पादन की जो निजी समिति है वही फैसला लेती है की गांव मे किसको सरकार के कौन से योजनाका लाभ देना है। यहाँ हम ये समझ सकते है की कैसे सरकार के ही किसी योजना का केंद्रबिंदु गांव कीपंचायत कार्यालय नही है। मतलब सरकार  की ही कोई बात गांव मे सरकार द्वारा नही पहुँच रही है। यह सबबातें गांव मे सरकार होते हुए भी उसके अदृश्यता को सच साबित करते है। यही वजह है की लोग स्थानिकसरकार की सुविधावों का प्रयोग नही का पा और नही कर रहे। स्थानीय सरकार सिर्फ व्यवस्थाओं का एकढांचा बन कर रह गया है। यही वजह है की गांव के लोगो को लगता है की सरकार उनसे बहुत दूर है, और वोउनको कभी नही सुनेगी। लोगो की इस सोच का कारन यही है की वो स्थानीय सरकार की महत्ता से परिचितनही है।

Harshita

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s